केंद्र सरकार व राज्य सरकार की सरकारी योजनाएं

केंद्र सरकार व राज्य सरकार की सरकारी योजनाएं :-

अन्नपूर्णा योजना –

2 अक्टूबर 2000 को सिखोड़ा गाँव, गाजियाबाद से इस योजना की शुरुवात की गई थी। इस योजना की शुरुवात अत्यंत गरीब वृद्धों के लिए रोटी की व्यवस्था करने के उद्देश्य से की गई थी।

बाल्मीकि अम्बेडकर मलिन बस्ती आवास योजना –

इस योजना की शुरुवात साल 2001 में की गई थी। इसके केंद्र सरकार व राज्य सरकार का अनुदान 50-50 प्रतिशत तय किया गया। इसका उद्देश्य गंदी बस्तियों में रहने वालों के घरों के निर्माण व उन्नयन को सरल बनाना था। निर्मल भारत अभियान इसी योजना का एक घटक है।

कस्तूरबा गाँधी विद्यालयों की योजना –

20 जुलाई 2004 को सरकार ने ओबीसी, एससी, एसटी व मुस्लिम समुदाय की लड़कियों के लिए कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालय खोलने की योजना की घोषणा की। इस आवासीय विद्यालय में 75 प्रतिशत स्थान ओबीसी, एससी, एसटी व मुस्लिम समुदाय की लड़कियों के लिए होंगे। अन्य 25 प्रतिशत स्थान गरीबी रेखा से नीचे की बालिकाओं के लिए होंगे।

राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (नरेगा) –

सरकार द्वारा 2 फरवरी 2006 को नरेगी की शुरुवात अनन्तपुर गाँव (जिला बान्दावाली, आँध्रप्रदेश) से की गई थी। 2 अक्टूबर 2009 को इनका नाम बदलकर ‘महात्मा गाँधी रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) कर दिया गया। बेल्जियम के अर्थशास्त्री ज्या देंज इस योजना के नीति निर्माता हैं। ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा इसका क्रियान्वयन किया जाता है। शुरुवात में इस योजना को देश के 27 राज्यों के 200 जिलों में लागू किया गया था। अप्रैल 2008 में इस देश के 614 जिलों में लागू किया गया। इस योजना में वित्तीय सहयोग केंद्र सरकार व राज्य सरकार में 90 व 10 प्रतिशत का अनुपात है। इसके तहत प्रत्येक परिवार को एक वित्तीय वर्ष में कम से कम 100 दिन काम दिलाने का नियम बनाया गया था। इसमें महिलाओं की भागीदारी 33 प्रतिशत होगी। इसके तहत सप्ताह में 6 दिन 7 घंटे प्रति दिन के हिसाब से काम लिया जाएगा। कार्य स्थल घर से 5 किलोमीटर से अधिक दूरी होने पर मजदूरी 10 प्रतिशत अधिक मिलेगी।

इसे भी पढ़ें  भारतीय राजव्यवस्था पाठ्यक्रम (Indian Polity Syllabus)

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन –

इसकी शुरुवात साल 2013 मे की गई थी। साम्य, सस्ता व गुणवत्ता पूर्ण स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं की व्यापक सुलभता प्रदान करने के उद्देश्य से इसकी शुरुवात की गई थी।

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 –

यह अधिनियम 12 सितंबर 2013 से प्रभावी हुआ। इसका उद्देश्य लोगों को पर्याप्त मात्रा में गुणवत्तापूर्ण खाद्य को उचित मूल्य पर उपलब्ध कराना है। इसके अंतर्गत लाभ प्राप्तकर्ता को 5 किलोग्राम चावल, गेहूँ तथा मोटे अनाज प्राप्त करने का कानूनी अधिकार है। प्रत्येक गर्भवती महिला एवं स्तनपान कराने वाली महिला को गर्भावस्था के समय एवं 6 माह बाद तक आंगनबाड़ी के माध्यम से भोजन उपलब्ध कराना है।

स्वच्छ भारत मिशन –

स्वच्छता को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इसकी शुरुवात 2 अक्टूबर 2014 को की गई थी। इसे सफल बनाने के लिए 5 वर्ष का समय अर्थात 2 अक्टूबर 2019 तक का समय रखा गया था। इसके तहत सभी ग्रामीण परिवारों को सौचालय उपलब्ध कराना था।

मिशन इंद्रधनुष –

इसकी शुरुवात 25 दिसंबर 2014 को की गई। यह मिशन बच्चों के टीकाकरण से संबंधित है। इसके तहत उन सभी बच्चों को टीकाकरण के अंतर्गत लाना है। जो पूर्ण या आंशिक रूप से सात बीमारियों के टीकाकरण से वंचित रह गए हों।

आंगनबाड़ी केंद्र –

इन केंद्रों की स्थापना ग्रामीण, शहरी व जनजातीय बाहुल्य क्षेत्रों में की गई। 300 दिन के लिए पूरक पोषाहार, स्वास्थ्य, शिक्षा, प्रतिरक्षण उपलब्ध कराने के उद्देश्य से इसकी शुरुवात की गई। पूरक पोषण की व्यवस्था 6 साल तक के बच्चे व गर्भवती महिलाओं के लिए की गई है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का चयन उसी क्षेत्र में रहने वाली महिलाओं में से किया जाएगा। जनसंख्या के आधार पर ये केंद्र खोले जाते हैं।

  • शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में 1000 की जनसंख्या पर आंगनबाड़ी केंद्र खोला जाएगा।
  • जनजाति बाहुल्य क्षेत्र में 700 की जनसंख्या पर आंगनबाड़ी केंद्र खोला जाएगा।
  • रेगिस्तानी व पहाड़ी क्षेत्रों में 300 की जनसंख्या पर आंगनबाड़ी केंद्र खोला जाएगा।
इसे भी पढ़ें  भारतीय राजव्यवस्था पाठ्यक्रम (Indian Polity Syllabus)

केंद्र सरकार की प्रमुख योजनाएं –

एकीकृत बालविकास तथा सेवा स्कीम की शुरुवात कब हुई – 1975 ई. में

डिजिटल इंडिया की शुरुवात कब हुई – 21 अगस्त 2014 को

प्रधानमंत्री जन धन योजना की शुरुवात कब हुई – 28 अगस्त 2014 को

दीनदयाल उपाध्याय अन्त्योदय योजना की शुरुवात कब हुई – 25 सितम्बर 2014 को

स्वच्छ भारत मिशन की शुरुवात कब हुई – 2 अक्टूबर 2014 को

सांसद आदर्श ग्राम योजना की शुरुवात कब हुई – 11 अक्टूबर 2014 को

श्रमेव जयते योजना की शुरुवात कब हुई – 16 अक्टूबर 2014 को

मिशन इंद्रधनुष की शुरुवात कब हुई – 25 दिसंबर 2014 को

नीति आयोग का गठन कब हुआ – 1 जनवरी 2015 को

बेटी बटाओ बेटी पढ़ाओ की शुरुवात कब हुई – 22 जनवरी 2015 को

सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुवात कब हुई – 22 जनवरी 2015 को

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना की शुरुवात कब की गई – 19 फरवरी 2015 को

प्रधानमंत्री कौसल विकास कार्यक्रम की सुरुवात कब हुई – 20 फरवरी 2015

जननी सुरक्षा योजना की शुरुवात कब हुई – 12 अप्रैल 2015 को

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना की शुरुवात कब हुई – 9 मई 2015 को

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना की शुरुवात कब हुई – 9 मई 2015 को

अटल पेंशन योजना की शुरुवात कब हुई – 9 मई 2015 को

इसे भी पढ़ें  भारतीय राजव्यवस्था पाठ्यक्रम (Indian Polity Syllabus)

कायाकल्प योजना की शुरुवात कब हुई – 15 मई 2015 को

डी. डी. किसान चैनल की शुरुवात कब की गई – 26 मई 2015 को

अमरुत (अटल मिशन फॉर रीजुवेनेशन एण्ड अरबन ट्रांसफारमेशन) योजना की शुरुवात कब की गई – 25 जून 2015 को

कौनसी योजना किस साल आयी –

प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण स्कीम – 2013

राजीव गाँधी किशोरी सशक्तिकरण योजना (सबला) – 2010

इंदिरा गाँधी मातृत्व सहयोग योजना – 2010 ई.

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना – 2009-10 ई.

राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना – 2007 ई.

जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी नवीकरण मिशन – 2005-06 ई.

राजीव गाँधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना – 2005 ई.

निर्मल भारत योजना – 2002 ई.

भारत निर्माण योजना – 2002 ई.

पॉपुलेशन फर्स्ट योजना – 2002 ई.

संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना – 2001 ई.

जनश्री बीमा योजना – 2000 ई.

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना – 1999 ई.

उद्देश्य

स्वर्ण जयंती शहरी रोजगार योजना – 1997 ई.

उद्देश्य – शहरों में रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना।

मिड डे मील योजना – 1995 ई.

उद्देश्य – विद्यालयों में मध्याह्न भोजन उपलब्ध कराना।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना – 1993 ई.

उद्देश्य – शिक्षित रोजगारों के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना

मरुभूमि विकास कार्यक्रम – 1977-78 ई.

उद्देश्य – मरु भूमि का उपचार करने हेतु।

(Visited 8 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published.