भारत की प्रमुख प्रतिमाएं | Important Statues in India

भारत की प्रमुख प्रतिमाएं | Important Statues in India

भारत की प्रमुख प्रतिमाएं | Important Statues in India : Statue of Unity, Statue of Equality Statue of, Statue of Knowledge, Statue of Prosperity…

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी –

Statue of Unity

31 अक्टूबर 2013 को इसका शिलान्यास गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया गया था। यह भारत के प्रथम ग्रहमंत्री सरदार बल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा है। यह गुजरात के नर्मदा जिले में स्थित है। राम सुतार इसके मूर्तिकार हैं। इस मूर्ति की ऊंचाई 182 मीटर (597 फीट) है। 25 अक्टूबर 2018 को इसका निर्माण कार्य पूर्ण हो गया। 31 अक्टूबर 2018 को इसका उद्घाटन किया गया। यह दुनिया की सबसे ऊंची मानव प्रतिमा है। इसे बनाने में कुल 2989 करोड़ रुपये की लागत आयी।

महात्मा बुद्ध प्रतिमा, गया (बिहार)

भारत की प्रमुख प्रतिमाएं | Important Statues in India

महात्मा बुद्ध की यह प्रतिमा बिहार राज्य के गया में स्थित है। जिसे प्राचीन काल में बोधगया के नाम से जाना जाता था। यहीं पर महात्मा बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति हुई। 25 मीटर (82 फीट) ऊँची इस प्रतिमा में महात्मा बुद्ध को ध्यान मुद्रा में दर्शाया गया है। इस प्रतिमा की नींव 1982 ई. में रखी गई थी। 18 नवंबर 1989 को इसका शिलान्यास किया गया।

स्टैच्यू ऑफ इक्वलिटी –

स्टैच्यू ऑफ इक्वैलिटी
भारत की प्रमुख प्रतिमाएं | Important Statues in India

यह संत रामानुजाचार्य की 216 फीट ऊँची प्रतिमा है। जिसका अनावरण तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में किया गया है। इसे शहर के बाहर 45 एकड़ के कैंपस में स्थापित किया गया। इस परियोजना की नींव 2014 में रखी गई थी। इसे बनाने में 400 करोड़ रुपये की लागत आयी। संत रामानुजाचार्य का जन्म 1017 ई. में तमिलनाडु के पेरुम्बदूर में हुआ था।

इसे भी पढ़ें  हाल ही में निधन (Recently Died)

अम्बेडकर प्रतिमा, विजयबाड़ा (आंध्र प्रदेश)

20 जनवरी 2024 को आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में भीमराव अम्बेडकर की 125 फुट ऊँची प्रतिमा का अनावरण को किया गया। यह अब तक की अम्बेडकर की दुनिया की सबसे ऊँची प्रतिमा है। इस मूर्ति को विजयवाड़ा के स्वराज मैदान में स्थापित किया गया है।

USA में अंबेडकर की प्रतिमा –

14 अक्टूबर 2023 को वाशिंगटन डी.सी. में स्थापित की गई अम्बेडकर प्रतिमा को ‘स्टेच्यू ऑफ इक्वलिटी’ का नाम दिया गया। इसे वाशिंगटन डीसी के उपनगर मेरीलैंड में स्थापित किया गया है। यह भारत के बाहर अम्बेडकर की सबसे ऊँची प्रतिमा है। इसकी ऊंचाई 19 फीट है। इसे स्थापित किये जाने के दौरान भारी मात्रा में भारतीय मूल के लोग उपस्थित रहे। इस प्रतिमा का अनावरण मशहूर मूर्तिकार राम सुतार द्वारा कराया गया। इन्होंने ही इस मूर्ति का निर्माण किया। बता दें कि स्टेट्यू ऑफ यूनिटी (पटेल की मूर्ति) के मूर्तिकार भी सुतार ही हैं।

अंबेडकर की सबसे ऊँची प्रतिमा –

14 अप्रैल 2023 को भीमराव अंबेडकर की 125 फीट ऊँची प्रतिमा का अनावरण तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में किया गया। इसका अनावरण तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने किया। इस दौरान अंबेडकर जी के पोते प्रकाश अंबेडकर उपस्थित रहे। यह भारत में स्थित अम्बेडकर की सबसे ऊँची प्रतिमा है। जिसे 146.50 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है। इसे 360 टन स्टेनलेस स्टील और 114 टन कांसे का इस्तेमाल कर बनाया गया है।

इसे भी पढ़ें  Preliminary Examination Test - PET

यह प्रतिमा राज्य सचिवालय के बगल में बुद्ध प्रतिमा के सामने स्थित है। पास में ही तेलंगाना शहीद स्मारक है। इस प्रतिमा के निर्माण में लगभग दो साल का समय लगा। यह 98 वर्षीय मूर्तिकार राम वनजी सुतार द्वारा बनाई गई है। प्रतिमा अनावऱण सभा में राज्य के 35 हजार लोगों को शामिल करने के लिए राज्य ने 750 बसें चलाईं। आने वाले इन लोगों के लिए हैदराबाद के 50 किलोमीटर के दायरे में भोजन की भी व्यवस्था की गई।

अम्बेडकर प्रतिमा, लातूर (महाराष्ट्र)

स्टेच्यू ऑफ नॉलेज भारत की प्रमुख प्रतिमाएं | Important Statues in India

13 अप्रैल 2022 को महाराष्ट्र के लातूर में 70 फीट ऊँची अम्बेडकर की प्रतिमा का अनावरण किरण रिजिजू द्वारा किया गया। इसका अनावरण अंबेडकर की 131वीं जयंती के अवसर पर किया गया। इसे प्रतिमा को ‘Statue of Knowledge’ का नाम दिया गया है।

(Visited 138 times, 1 visits today)
error: Content is protected !!