विश्व की प्रमुख झीलें

विश्व की प्रमुख झीलें - कैस्पियन सागर, बैकाल झील, विक्टोरिया झील, वान लेक इत्यादि

पृथ्वी पर झीलों का विस्तार विश्व भर में पाया जाता है। झीलें दो प्रकार की होती हैं – खारे पारी की झील और मीठे पानी की झील। इस लेख में विश्व की प्रमुख झीलों के बारे में महत्वूपूर्ण जानकारी को साझा किया गया है।

विश्व की प्रमुख झीलें

उत्पत्ति के आधार पर झीलें –

विश्व की प्रमुख झीलें

  • क्रेटर झील 
  • भूकंपकृत या अभिनत झील
  • भ्रंश दरारी झील
  • हिमानी झीलें
  • कृत्रिम या मानवनिर्मित झीलें

तालाब और झील में क्या अंतर होता है ?

आकार के अतिरिक्त तालाब और झील देखने में एक जैसे ही लगते हैं। परंतु यह इन दोनों का अंतर नहीं है। बल्कि अंतर ये है कि तालाब में जल का स्त्रोत बाहरी होता है। वहीं झील में जल का स्त्रोत आंतरिक (भूमिगत) होता है।

कैस्पियन सागर –

कैस्पियन सागर

कैस्पियन सागर विश्व की सबसे विस्तृत झील है। इसका क्षेत्रफल 371000 वर्ग किलोमीटर है। यह खारे पानी की झील है। यह यूरेशिया में अवस्थित है। जो कि रूस, कजाकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान, ईरान और अजरबैजान की सीमा बनाती है। यूराल व वोल्गा नदी उत्तर की ओर से आकर इसमें गिरती हैं। इस कारण कैस्पियन सागर झील के उत्तरी भाग की लवणता कम है। परंतु कैस्पियन सागर के दक्षिणी भाग में स्थित काराबुगास की खाड़ी की लवणता 140% है।

बैकाल झील –

बैकाल झील

बैकाल झील विश्व की सबसे गहरी झील है। बैकाल झील की गहराई 1637 मीटर (5369 फीट) है। यह मंगोलिया की उत्तरी सीमा के उत्तर में रूस में स्थित है। यह रूस के साइबेरिया क्षेत्र में अवस्थित है। इसके पूर्वी भाग में ब्यूरेट नामक जनजाति पायी जाती है।

इसे भी पढ़ें  सौरमंडल प्रश्न उत्तर (Solar System Question Answer)

टंगानीका झील –

टंगानीका झील

यह मीठे पानी की विश्व की सबसे लम्बी झील है। इसकी लम्बाई 660 किलोमीटर है। यह विश्व की दूसरी सबसे गहरी झील है। इसकी गहराई 1436 मीटर है।

ग्रेट लेक्स –

ग्रेट लेक्स

ग्रेट लेक्स उत्तरी अमेरिका महाद्वीप पर अवस्थित पांच झीलों का समूह है। इसके अंतर्गत कुल पांच झीलें सुपीरियर झील, मिशिगन झील, ह्यूरोन झील, इरी झील, व ओंटारियो झील आती है। ग्रेट लेक्स कनाडा व अमेरिका की सीमा पर अवस्थित हैं।

सुपीरियर झील –

विश्व की प्रमुख झीलें सुपीरियर झील

सुपीरियर झील ताजे (मीठे) पानी की विश्व की  सबसे बड़ी झील है। यह अमेरिका व कनाडा की सीमा पर अवस्थित है। यह ग्रेट लेक्स समूह की सबसे उत्तर में अवस्थित झील है। इसका क्षेत्रफल 82100 वर्ग किलोमीटर है।

विक्टोरिया झील –

विश्व की प्रमुख झीलें लेक विक्टोरिया

विक्टोरिया झील अफ्रीका महाद्वीप पर स्थित है। यह युगांडा, केन्या, व तंजानिया की सीमा बनाती है। इसका क्षेत्रफल 68870 वर्ग किलोमीटर है।

मृत सागर –

यह इजराइल फिलिस्तीन व जॉर्डन की सीमा पर अवस्थित है। इसकी औसत गहराई 120 मीटर है। यह विश्व की सबसे निचली झील है। समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 2500 फीट और नीचे है। यह विश्व की दूसरी सर्वाधिक लवणता वाली झील है।

टिटिकाका झील –

टिटिकाका झील पेरु व बोलीविया की सीमा पर स्थित झील है। इसकी गहराई 370 मीटर है। यह विश्व की सबसे ऊंचाई पर अवस्थित नौकागम्य झील है।

इसे भी पढ़ें  सौरमंडल : सूर्य, ग्रह, उपग्रह

अरल सागर –

यह कजाकिस्तान व उजबेकिस्तान की सीमा पर अवस्थित खारे पानी की झील है। सर दरिया व अमू दरिया नामक नदियां इसमें आकर गिरती हैं। Watch in Video

वान लेक –

वान झील विश्व की सर्वाधिक लवणता वाली झील है। यह तुर्की में अवस्थित है।

विश्व की प्रमुख झीलें : गहराई व संबंधित क्षेत्र

  • कैस्पियन सागर – 371000 वर्ग किलोमीटर – रूस , कजाकिस्तान , ईरान , अजरबैजान , तुर्कमेनिस्तान
  • सुपीरियर झील – 82100 वर्ग किलोमीटर – अमेरिका , कनाडा
  • विक्टोरिया झील – 68870 वर्ग किलोमीटर – युगांडा , केन्या , तंजानिया
  • ह्यूरन झील – 59600 वर्ग किलोमीटर – अमेरिका , कनाडा
  • मिशिगन – 58000 वर्ग किलोमीटर – अमेरिका
  • टंगानीका झील – 32900 वर्ग किलोमीटर – तंजानिया , जाम्बिया , जायरे , बुरुंडी
  • बैकाल झील – 31500 वर्ग किलोमीटर – रूस
  • ग्रेट बियर – 31000 वर्ग किलोमीटर –
  • मालावी – 29500 वर्ग किलोमीटर – मालावी , मोजाम्बिक
  • ग्रेट स्लेव – 27000 वर्ग किलोमीटर – कनाडा
  • इरी झील – 25700 वर्ग किलोमीटर – अमेरिका , कनाडा
  • विनिपेग झील – 24510 वर्ग किलोमीटर – कनाडा
  • न्यासा झील – 22490 वर्ग किलोमीटर
  • ओंटारियो झील – 18960 वर्ग किलोमीटर – अमेरिका , कनाडा
  • लडोगा झील – 18130 वर्ग किलोमीटर
  • बाल्खश झील- 17400 वर्ग किलोमीटर
  • वोस्टोक झील – 12500 वर्ग किलोमीटर
  • ओनेगा झील – 9600 वर्ग किलोमीटर
  • आयर झील – 8900 वर्ग किलोमीटर
  • टिटिकाका झील – 8372 वर्ग किलोमीटर
  • निकारागुआ झील – 8260 वर्ग किलोमीटर
  • अथाबक्का – 8080 वर्ग किलोमीटर
  • अलबर्ट झील – 6410 वर्ग किलोमीटर
  • रेंडियर झील – 6330 वर्ग किलोमीटर
  • इसीकुल झील – 6200 वर्ग किलोमीटर
  • उरमिया झील – 5900 वर्ग किलोमीटर
  • टोरेंस झील – 5780 वर्ग किलोमीटर
  • वैनर्न झील – 5580 वर्ग किलोमीटर
  • पोयांगहू झील – 5000 वर्ग किलोमीटर
  • म्वेरू झील – 4920 वर्ग किलोमीटर
  • तुर्काना (रुडोल्फ) झील – 4250 वर्ग किलोमीटर
  • किंघाई झील – 2300 वर्ग किलोमीटर
इसे भी पढ़ें  भारत की नदियां

झीलों से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्य –

  • विश्व में सर्वाधिक झीलें कनाडा में हैं।
  • झीलों का देश फिनलैंड को कहा जाता है।
  • लाडोगा व ओनेगा झीलें रूस में हैं।
  • लेक आयर आस्ट्रेलिया में अवस्थित झील है।
  • हाई स्वान मिश्र में स्थित मानव निर्मित जील है।
  • लोपनोर झील चीन में है।
  • विश्व की सबसे ऊंचाई पर अवस्थित झील ठिसो सिकरू है। यह तिब्बत के पठार पर अवस्थित है।
  • मोजाम्बिक, तंजानिया व मलावी की सीमा कौनसी झील बनाती है – न्यासा या मलावी झील
  • तंजानिया, जायरे व जाम्बिया की सीमा कौनसी झील बनाती है – टंगानिया
  • कनाडा की झीलें – विनिपेग, रेंडियर, ग्रेट स्लैव, व ग्रेट बीयर हैं।
(Visited 2,952 times, 1 visits today)
error: Content is protected !!