Current Affairs in Hindi

Daily Current Affairs in Hindi करेंट अफेयर्स

Current Affairs in Hindi : करेंट अफेयर्स इन हिंदी | समसामयिकी घटनाक्रम | डेली करेंट अफेयर्स | Daily Current Affairs in Hindi | दैनिक समसामयिकी | राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स | International Current Affairs | अंतर्राष्ट्रीय समसामयिकी घटनाक्रम | Competition | प्रतियोगी परीक्षोपयोगी महत्वपूर्ण समसामयिकी | Exam | SSC | एसएससी | CGL | सीजीएल | MTS | एमटीएस | Banking |बैंकिंग | Lekhpal |लेखपाल | State | PCS |पीसीएस | UPSC | यूपीएससी |UP PET | Super TET | UGC NET | NTA NET etc…

ओडिशा रेल हादसा –

ओडिशा के बालासोर में 2 जून 2023 शाम करीब साढ़े सात बजे तीन ट्रेनें हादसे का शिकार हो गईं। यह हादसा बाहानगा स्टेशन के पास हुआ। हावड़ा-शालीमार एक्सप्रेस बुरी तरह से दुर्घटनाग्रस्त हो गई। बालेश्वर जिले के बाहानगा स्टेशन से 2 किलोमीटर दूरी पर कोरोमण्डल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार हादसे की चपेट में आये 1175 लोगों को अस्पतालों में भर्ती किया गया। इनमें मरने वालों की संख्या 287+ पहुँच चुकी है। इस भीषण हादसे के बाद 58 ट्रेनें रद्द कर दी गईं। 81 गाड़ियों के माग में परिवर्तन किया गया। वहीं 10 ट्रेनों को शॉर्ट टर्मिनेट किया गया।

कूनो नेशनल पार्क में एक और चीते की मौत –

चीते की मौत

मध्यप्रदेश के कूनो नेशनल पार्क में दक्षिण अफ्रीका से लाए गए चीतों को रखा गया था। यहाँ लाए गए चीतों में से दो साशा और उदय की मौत पहले ही बीमारी से हो चुकी है। जिनमें साशा की मौत लिवर और किडनी में इन्फेक्शन से हुई। जिनमें से पहले की मौत 27 मार्च को और दूसरे की मौत 23 अप्रैल को हुई। अब तीसरे चीते की मौत की खबर सामने आयी है। यह एक मादा चीता थी जिसका नाम दक्षा रखा गया था। इसकी मौत एक बाड़े में आपसी लड़ाई के दौरान 9 मई को हो गई। ये मात्र 45 दिनों के अंदर तीसरे चीते की मौत की खबर है। इन चीतों को नामीबिया और दक्षिण अफ्रीका से लाया गया था। जिनमें आठ चीते नामीबिया से और 12 चीतों को दक्षिण अफ्रीका से लाया गया।

चंद्रग्रहण 2023

Current Affairs in Hindi चंद्रग्रहण 2023

साल 2023 का पहला चंद्रग्रहण 5-6 मई 2023 को पड़ेगा। यह 5 मई की रात 8 बजकर 46 मिनट पर शुरु होगा। 6 मई रात 1 बजकर 02 मिनट तक रहेगा। इस चंद्रग्रहण की अवधि 4 घण्टे 15 मिनट की होगी। यह चंद्रग्रहण भारत में नई दिल्ली में नजर आयेगा। यह एक खगोलीय घटना है जो समय-समय पर घटित होती रहती है। सूर्य और चंद्रमा के बीच आ जाने के कारण चंद्रग्रहण की घटना होती है। चंद्रमा एक उपग्रह है और उपग्रहों के पार अपना प्रकाश नहीं होता। ऐसे में सूर्य की रोशनी पड़ने पर वह सूर्य की रोशनी से चमकता है। लेकिन सूर्य व चंद्रमा के बीच पृथ्वी के आ जाने से यह रौशनी चंद्रमा पर नहीं पड़ पाती। इसी घटना को चंद्रग्रहण कहते हैं।

बुद्ध पूर्णिमा 2023 –

इस बार 2023 में बुद्ध पूर्णिमा 5 मई की पड़ी है। इस बार 5 मई की रात को बुद्ध पूर्णिमा होगी। इसी रात चंद्रग्रहण भी पड़ेगा। जो कि साल 2023 का पहला चंद्रग्रहण है। यह दुर्लभ संयोग 130 साल बाद पड़ा है। जब बुद्ध पूर्णिमा और चन्द्रग्रहण एक साथ पड़े हैं। बुद्ध पूर्णिमा का बौद्ध धर्म में अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान है। इस दिन बुद्ध के जीवन की तीन महत्वपूर्ण घटनाएं घटी। बुद्ध का जन्म, ज्ञान प्राप्ति और निर्वाण इसी दिन हुए। यह पर्व हर साल बैशाख माह की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर से बौद्ध अनुयायी बोधगया आते हैं। वे बोधिवृक्ष की पूजा करते हैं। इसी दिन भगवान बुद्ध को बोधिवृक्ष के नीच ज्ञान की प्रप्ति हुई थी।

कलकत्ता हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश –

Current Affairs in Hindi

न्यायमूर्ति टी.एस. शिवगनानम को कलकत्ता उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया है। उच्च न्यायालय में सबसे वरिष्ठ न्यायाधीश शिवगनानम 31 मार्च 2023 से कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश के तौर पर सेवा दे रहे थे। ये 15 सितंबर 2025 को सेवानिृवत्त होंगे। इनका जन्म 16 सितंबर 1963 को हुआ था। इन्होंने लॉ की प्रैक्टिस सितंबर 1986 में शुरु की थी। 31 मार्च 2009 को इन्हें मद्रास हाईकोर्ट का अतिरिक्त न्यायाधीश नियुक्त किया गया था। 29 मार्च 2011 को इन्हें स्थायी न्यायधीश नियुक्त कर दिया गया था। बाद में अक्टूबर 2021 में इन्हें कलकत्ता उच्च न्यायालय में स्थानांतरित किया गया। कलकत्ता उच्च न्यायालय को 1862 ई. में स्थापित किया गया था। पश्चिम बंगाल, और अंडमान व निकोबार द्वीप समूह कलकत्ता हाईकोर्ट के न्यायिक क्षेत्र के अंतर्गत आते हैं। कलकत्ता हाईकोर्ट में कुल 72 (1+71) न्यायाधीश हैं।

इसे भी पढ़ें  जून 2020 करेंट अफेयर्स

अंडमान और निकोबार के कमांडर इन चीफ –

एयर मार्शल साजी बालकृष्णन को भारतीय वायुसेना की अंडमान और निकोबार कमान का कमान्डर इन चीफ नियुक्त किया गया है। यह भारत की एकमात्र त्रिसेवा कमान है। जिसका उद्देश्य भारत की तीनों सेनाओं के बीच अधिक तालमेल लाना है। बालकृष्णन यहाँ के 17वें कमांडर इन चीफ बने हैं। इन्होंने इस पद पर लेफ्टिनेंट जनरल अजय सिंह का स्थान लिया है। इस क्षेत्र में चीन के बढ़ते दखल के मद्देजनर यह कमान हिंद महासागर में कड़ी निगरानी रखती है। इससे पहले ये विभिन्न महत्वूर्ण पदों पर अपनी सेवा दे चुके हैं। ये 1986 ई. में भारतीय वायुसेना में नियुक्त किये गए थे। इनके पास मिग-21 और किरण विमान उड़ाने का 3200 घंटों से अधिक का अनुभव है।

World Press Freedom Index 2023 –

World Press Freedom Index 2023

हाल ही में ‘The Reporters without Borders’ द्वारा जारी की गई। इस रैंकिंग में इस बार कुल 180 देशों को शामिल किया गया। इसमें भारत को 161वां स्थान प्राप्त हुआ। पिछले साल 2022 में भारत को इसमें 150वीं रैंकिंग प्राप्त हुई थी। इस बार की रैंकिंग में नॉर्वे की शीर्ष स्थान प्राप्त हुआ है। वहीं दूसरी ओर उत्तर कोरिया इस इंडेक्स में सबसे बुरी स्थिति में 180वें स्थान पर है। वर्तमान समय में भारत में 1,00,000 से अधिक समाचार पत्र है। साथ ही 380 टीवी समाचार चैनल हैं।

वर्ल्ड प्रेस फ्रीडम इंडेक्स 2023 में देशों की स्थित –

  1. नॉर्वे
  2. आयरलैंड
  3. डेनमार्क
  4. स्वीडन
  5. फिनलैंड

176 – तुर्कमेनिस्तान

177 – ईरान

178 – वियतनाम

179 – चीन

180 – उत्तर कोरिया

भारत का पहला केबल आधारित रेल पुल –

Current Affairs in Hindi अंजी खड्ड ब्रिज

अंजी खड्ड ब्रिज भारत में केबल आधारित पहला रेल पुल है। भारत के पहले केबल स्टेड रेल पुल ‘अंजी ब्रिज’ का उद्घाटन केंद्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में किया गया है। यह उधमपुर-श्रीनगर-बारामुला रेल लिंक परियोजना का हिस्सा है। 473.25 मीटर लंबा यह पुल 96 केबल्स पर स्थापित है। इन तारों का कुल भार 848.7 मीट्रिक टन है। इसे पुल को अंजी नदी पर बनाया गया है। अंजी नदी तल से इसकी ऊँचाई 331 मीटर है। इसे 11 माह के रिकार्ड समय में 26 अप्रैल 2023 को तैयार कर लिया गया। इस पर रेल 100 किलोमीटर प्रति घण्टे की रफ्तार से दौड़ेगी। यह रेल पुल कोंकण रेलवे कॉर्पोरेशन द्वारा बनाया गया है। इसे 28,000,00,00,000 रुपये की लागत से बनाया गया है।

चार्ल्स डार्विन का विकास का सिद्धांत –

NCERT ने चार्ल्स डार्विन के विकास के सिद्धांत को 9वीं और 10वीं कक्षा के पाठ्यक्रम से हटा दिया है। NCERT के इस फैसले पर साइंटिस्ट्स ने आपत्ति जताई है। भारत के 1800 से अधिक शिक्षकों व वैज्ञानिकों ने इसके खिलाफ हस्ताक्षर अभियान चलाया। वहीं ब्रेकथ्रू साइंस सोसाइटी ने NCERT के इस फैसले के खिलाफ एक अपील पत्र जारी किया। एनसीईआरटी के इस फैसले को वैज्ञानिकों ने शिक्षा का मजाक माना है। इससे पहले ‘आनुवांशिकता और विकास’ को ‘आनुवांशिकता’ में परिवर्तित किया था। लेकिन तब कोविड महामारी के दौरान यह कार्य छात्रों पर पड़ रहे बोझ को कम करने के लिए किया गया था। लेकिन अब इसे विज्ञान की किताब से पर्मानेंट हटाने का निर्णय ले लिया गया। जो कि शिक्षा का उपहास मात्र है।

भारत का पहला गाँव –

Current Affairs in Hindi

उत्तराखण्ड के चमोली जिले में स्थित माणा गांव को भारत का पहला गाँव घोषित किया गया है। सीमा सड़क संगठन द्वारा हाल ही में यहाँ पर भारत के पहले गांव का बोर्ड लगाया गया। इससे पहले इस गाँव को भारत के अंतिम गांव के रूप में जाना जाता था। यह गाँव भारत-चीन सीमा पर स्थित है। यह गाँव सरस्वती नदी के किनारे बसा हुआ है। बद्रीनाथ धाम यहाँ से मात्र तीन किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह गाँ वुलन गार्मेंट्स और मटेरियल के लिए प्रसिद्ध है। जिन्हें मुख्यतः भेंड़ के ऊन से बनाया जाता है। इसके अतिरिक्त यह गाँव आलू व राजमा की खेती के लिए भी विख्यात है।

इसे भी पढ़ें  करेंट अफेयर्स 2021 : Current Affairs 2021

पेन्सिलवेनिया में दीपावली पर राष्ट्रीय अवकाश –

अमेरिकी राज्य पेन्सिलवेनिया ने राज्य में दीपावली पर राष्ट्रीय अवकाश की घोषणा की है।

अब पेंसिलवेनिया मे हर साल दीपावली के दिन राष्ट्रीय अवकाश रहा करेगा।

ऐसा करने वाला पेंसिलवेनिया पहला अमेरिकी राज्य बना है।

प्रकाश सिंह बादल का निधन –

प्रकाश सिंह बादल का निधन

पांच बार पंजाब के मुख्यमंत्री रह चुके शिरोमणि अकाली दल के नेता प्रकाश सिंह बादल नहीं रहे। इनका 95 वर्ष की अवस्था में 25 अप्रैल 2023 को निधन हो गया। सांस संबंधी समस्या के कारण इन्हें मोहाली के एक अस्पताल में भर्ती किया गया था। इनके निधन पर केंद्र सरकार ने दो दिनों के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की। देश के प्रधानमंत्री मोदी जी और हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने इनके निधन पर शोक प्रकट किया। इनका जन्म 8 दिसंबर 1927 को हुआ था। ये 1957 में पहली बार पंजाब विधानसभा के लिए विधायक चुने गए थे। ये कुल 10 बार विधानसभा सदस्य रहे। प्रकाश सिंह बादल 1970 में पहली बार मुख्यमंत्री बने थे। 2017 में वे आखरी बार इस पद पर रहे।

सूडान में फसे भारतीयोंं के लिए ऑपरेशन कावेरी –

ऑपेरशन कावेरी Operation Kaveri

अफ्रीकी देश सूडान में पिछले दस दिनों से चल रहे हिंसा, तनाव व संघर्ष के बाद वहाँ स्थिति खराब होती जा रही है। वहाँ कुछ दिनों से सेना व अर्द्धसैनिक बलों के बीच सत्तो को लेकर संघर्ष जारी है। इस लड़ाई में अब तक सैकड़ो लोगों की जान भी जा चुकी है। इस बीच वहाँ फंसे भारतीयों को बापस लाने की कवायद शुरु की गई। 24 अप्रैल 2023 को इसके लिए ऑपरेशन कावेरी चलाया गया। इसके तहत भारतीय नौसेना के जहाज INS सुमेधा के माध्यम से 278 भारतीयों के पहले जत्थे को रवाना किया गया। ये सूडान से सऊदी अरब के लिए रवाना किया गया। उसके बाद इन्हें भारत के लिए रवाना किया जाएगा। अभी सूडान में करीब 3000 भारतीय फसे हुए हैं। केरल के 48 वर्षीय भारतीय अल्बर्ट ऑगस्टस की गोली लगने से मौत हो गई।

स्टारशिप की लान्टिंग फेल –

Current Affairs in Hindi

अमेरिकन अंतरिक्ष कंपनी स्पेस-एक्स द्वाला लांच दुनिया के सबसे शक्तिशाली रॉकेट स्टारशिप की लांचिंग फेल हो गई। 20 अप्रैल 2023 को इसके लांच होने 50 मिनट बाद इसमें बिस्फोट हो गया। तब यह 39 किलोमीटर की ऊँचाई पर पहुँच चुका था। यह स्टारशिप की पहली परीक्षण उड़ान थी। इससे पहले 17 अप्रैल को भी इसे लान्च करने की कोशिश की गई थी। लेकिन प्रेशर वाल्व के फ्रीज होने के कारण इसकी लांचिंग आगे बढ़ा दी गई थी। स्पेसएक्स के स्टारशिप अंतरिक्ष यान और सुपर हैवी रॉकेट को संयुक्त रूप से स्टारशिप का नाम दिया गया है। यह reusable अंतरिक्ष यान है। यह दुनिया का अब तक का सबसे शक्तिशाली लांच व्हीकल है। इसकी ऊँचाई 120 मीटर और व्यास 9 मीटर है। इसकी पेलोड क्षमता 100-150 टन है।

अब चीनी भाषा सीखेंगे भारतीय सैनिक –

भारत-चीन पर अक्सर तनाव के चलते यह कदम उठाया गया है। अब भारतीय सैनिकों को भी चीनी भाषा का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके लिए भारतीय सेना ने असम की तेजपुर यूनिवर्सिटी के साथ समझौता किया है। 16 सप्ताह के इस पाठ्यक्रम का तेजपुर यूनिवर्सिटी में आयोजित किया जाएगा। इस समझौते पर तेजपुर विश्वविद्यालय के कुलपति एस.एन. सिंह ने हस्ताक्षर किये। यह विश्वविद्यालय विदेशी भाषाओं के शिक्षण में अग्रणी है।

अज्ञात शवों की पहचान हेतु डीएनए डाटाबेस –

हिमाचल प्रदेश में पाए जाने वाले अज्ञात शवों की पहचान करने के लिए राज्य सरकार द्वारा DNA डाटाबेस को तैयार किया गया है। ऐसा करने वाला हिमाचल प्रदेश भारत का पहला राज्य बन गया है। इसकी प्रक्रिया एक साल पहले ही शुरु कर दी गई थी। अब तक कुल 150 डीएनए सैंपल कलेक्ट किये जा चुके हैं। फारेंसिक निदेशक के अनुसार इसके माध्यम से सेकेंड्स के अंदर किसी अज्ञात शव की पहचान की जा सकती है। इसके साथ ही किसी आपराधिक जाँच में भी यह डाटाबेस काफी उपयोगी  सिद्ध होगा। इस डाटाबेस और मैचिंग टेक्नोलॉजी को पिछले साल 55 लाख रुपये में खरीदा गया था। इसकी डीएनए सैम्पल कलेक्ट करने की क्षमता 20 हजार है। हिमाचल पुलिस के अनुसार हर साल राज्य में 100 से ज्यादा ऐसे शव प्राप्त होते हैं जिनकी कोई पहचान या रिकॉर्ड उपलब्ध नहीं।

इसे भी पढ़ें  राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द

हिमाचल हाई कोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश –

वरिष्ठ जस्टिस तारलोक सिंह चौहान को हाल ही मे हिमाचल हाईकोर्ट का नया कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया है। कानून व न्याय मंत्रालय की ओर से इस संबंध में सूचना जारी की गई है। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश जस्टिस सबीना के सेवानृवित्त होने के बाद 20 अप्रैल 2023 से तारलोक जी का कार्यकाल प्रारंभ हुआ। ये राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यकारी अध्यक्ष भी हैं। शिमला में जन्मे तारलोक जी ने यहाँ के बिशप कॉटन स्कूल से अपनी शिक्षा ग्रहण की। बाद में इन्होंने चंडीगढ़ के पंजाब विश्वविद्यालय से लॉ में डिग्री प्राप्त की। इन्हें 23 फरवरी 2014 को उच्च न्यायलय का अतिरिक्त न्यायाधीश बनाया गया था। बाद में 30 नवंबर 2014 को ये हिमाचल हाईकोर्ट के स्थायी न्यायाधीश बने।

मिस इंडिया 2023 : नंदिता गुप्ता

मिस इंडिया 2023 Miss India 2023 Nandita Gupta Current Affairs in Hindi

फेमिना मिस इंडिया 2023 का ताज राजस्थान की 19 वर्षीय नंदिता गुप्ता को पहनाया गया। नन्दिता गुप्ता राजस्थान के कोटा की रहने वाली हैं। इन्होंने बिजनेस मैनेजमेंट की पढ़ाई की है। नंदिता भारत की 59वीं मिस इण्डिया चुनी गई हैं। नंदिता को यह ताज पूर्व मिस इंडिया सिनी शेट्टी द्वारा पहनाया गया।

नंदिता के बाद दिल्ली की श्रेया पूंजा फर्स्ट रनरअप और मणिपुर की थौना ओजम स्ट्रेला लुवांग सेकेण्ड रनरअप रहीं।

अब नंदिता मिस वर्ल्ड के अगले सीजन में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी।

Richest CM List 2023 –

Current Affairs in Hindi Richest CM List 2023

भारत के 30 मुख्यमंत्रियों की सूची में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी भारत के सर्वाधिक संपत्ति वाले मुख्यमंत्री हैं। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भारत की सबसे कम संपत्ति वाली मुख्यमंत्री हैं। इनके पास सिर्फ 15.38 लाख रुपये की संपत्ति है। यह रिपोर्ट नेताओं के अपराधों  व संपत्ति पर नजर रखने वाली Association for Democratic Reforms (ADR) द्वारा जारी की गई है। इस रिपोर्ट में देश के कुल 30 मुख्यमंत्रियों की संपत्ति के बारे में जानकारी दी गई है। इसमें जगनमोहन रेड्डी को भारत का सबसे अमीर मुख्यमंत्री घोषित किया गया है। जिनके पास 510.38 करोड़ रुपये की संपत्ति है।

इनके अतिरिक्त बाकी 10 सबसे अमीर मुख्यमंत्रियों की कुल संपत्ति मिलाकर भी जगनमोहन रेड्डी के बराबर नहीं। वहीं दूसरी ओर बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के पास माज्ञ 15 लाख रुपये की संपत्ति है। देश के मुख्यमंत्रियों की औसत संपत्ति 33.96 करोड़ रुपये है। सिवाय ममता बनर्जी के बाकी सभी 29 मुख्यमंत्री करोड़पति हैं। दूसरे नंबर पर अरुणाचल प्रदेश के सीएम पेमा खांडू हैं जिनके पास कुल 163.5 करोड़ रुपये की संपत्ति है। तीसरे नंबर पर ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक हैं। जिनके पास कुल 63.87 करोड़ रुपये की संपत्ति है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पास 1.54 करोड़ रुपये की संपत्ति है।

भारत के मुख्यमंत्रियों की संपत्ति –

  • एस.जगनमोहन रेड्डी – 510.38 करोड़ रुपये
  • पेमा खांडू – 163.50 करोड़ रुपये
  • नवीन पटनायक – 63.87 करोड़ रुपये
  • नेफ्यू रियो – 46.95 करोड़ रुपये
  • एन. रंगासामी – 38.39 करोड़ रुपये
  • भूपेश बघेल – 23 करोड़ रुपये
  • अरविंद केजरीवाल – 3.44 करोड़ रुपये
  • नीतीश कुमार – 3 करोड़ रुपये
  • भगवंत मान – 1.97 करोड़ रुपये
  • योगी आदित्यनाथ – 1.54 करोड़ रुपये
  • एन.बीरेन सिंह – 1.47 करोड़ रुपये
  • मनोहर लाल खट्टर – 1.27 करोड़ रुपये
  • पिनराई विजयन – 1.18 करोड़ रुपये
  • ममता बनर्जी – 15.38 लाख रुपये
(Visited 179 times, 1 visits today)
error: Content is protected !!